कुल्लू प्रकरण पर एक्शन में डीजीपी : एसपी गौरव सिंह, ब्रजेश सूद व बलबंत सिंह अनिवार्य छुट्टी पर भेजे

114

शिमला. कुल्लू में नितिन गडकरी के स्वागत के बाद एसपी गौरव सिंह ने मुख्यमंत्री के सुरक्षा कर्मी को थप्पड़ मार दिया। जिस विवाद में डीजीपी संजय कुंडू ने कड़ा एक्शन लेते हुए विवाद से जुड़े तीनो अधिकारियों एसपी गौरव सिंह, सीएम के सुरक्षा कर्मी ब्रजेश सूद और बलवंत को तत्तकाल प्रभाव से अनिवार्य छुट्‌टी पर भेज दिया है। वहीं सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि यह गंभीर मामला है। तीन दिनों के अंदर जांच रिपोर्ट मांगी गई है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

1. यह आदेश दिया गया है कि एचपी पुलिस अधिनियम की धारा 63 के तहत एसपी कुल्लू श्री गौरव सिंह, आईपीएस की ड्यूटी डीआईजी सीआर श्री मधुसूदन, आईपीएस द्वारा की जाएगी; एडडीएल एसपी, सीएम सुरक्षा, Sh Brijesh Sood, HPS को Addl SP, IIIrd Bn Pandoh, Sh Puneet Raghu, HPS; और IG Intelligence तुरंत प्रभाव से HP के माननीय मुख्यमंत्री को Sh Balwant, HPP, PSO के कर्तव्यों का निर्वहन करने के लिए तुरंत प्रभाव से करेंगे । । ।
2. आगे माननीय केंद्रीय कैबिनेट मंत्री श्री नितिन गडकरी जी के दौरे के दौरान भुंतर में हुई घटना की प्रारंभिक जांच के समापन तक । जांच के समापन तक श्री गौरव सिंह, श्री बृजेश सूद और श्री बलवंत अनिवार्य छुट्टी पर रहेंगे । उनका मुख्यालय निम्न प्रकार से तय है :-
(a) Shri Gaurav Singh, IPS- Range Office Mandi
(b) Shri Brajesh Sood, HPS- PHQ ShImla
(c) Shri Balwant Singh- PHQ Shimla
3. ये आदेश अनुशासन और बल के अच्छे आचरण और न्याय के अंत को सुरक्षित करने के लिए भी जारी किये जाते हैं ।
आदेश के अनुसार
डीजीपी एचपी

. देवभूमि हिमाचल की पुलिस के दामन पर आज बड़ा दाग लगा है। कुल्लू के एसपी और मुख्यमंत्री के सुरक्षा अधिकारी के बीच मारपीट की घटना बहुत ही शर्मनाक है। सोशल मीडिया में वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहा है कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के कुल्लू पहुंचने पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उनका स्वागत किया। स्वागत के बाद रास्ते मंख ही फोरलेन प्रभावित लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। गडकरी और मुख्यमंत्री प्रभावितों से मिले और आगे बढ़ गए। इसके बाद एसपी और सुरक्षा अधिकारी के बीच बहस शुरु हुई। इसी बहस के दौरान एसपी ने सुरक्षा अधिकारी को थप्पड़ मार दिया। थप्पड़ खाने के बाद कई सुरक्षा अधिकारी एकत्र हो गए और उन्होंने एसपी को धक्का दिया और दो बार लात भी मारी। ऐसा साफ वीडियो में दिख रहा है। थप्पड़ और लात खाने के बाद एसपी और सुरक्षा अधिकारी अपनी ड्यूटी निभाने गाड़ियों में बैठकर निकल गए। विवाद का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद पुलिस महकमा भी हरकत में आया। डीजीपी संजय कुंडू ने जांच के आदेश दे दिए और खुद पूरे मामले को देखने के लिए कुल्लू रवाना हो गए। जांच में कौन दोषी पाया जाता है यह तो बाद की बात है लेकिन इस घटना ने हिमाचल पुलिस को शर्मसार कर दिया है।

जनता को सुरक्षा की गारंटी देने वाली पुलिस के बड़े अधिकारियों के बीच मारपीट की घटना ने प्रदेश को शर्मसार कर दिया है। सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में यह दिख रहा है कि कुल्लू के एसपी और मुख्यमंत्री के सुरक्षा अधिकारी के बीच विवाद हुआ जो मारपीट और धक्का मुक्की तक पहुंच गया है। मामला मुख्यमंत्री के संज्ञान में भी आया है। जिससे विवाद बहुत बढ़ गया है। कुल्लू के एसपी को लात मारने की घटना का स्थानीय लोगों ने भी विरोध किया जो वीडियो में आ रही आवाजों से साफ हो रहा है। विवाद क्यों हुआ, इस बारे में अभी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता लेकिन अभी तक की खबरों के अनुसार कुल्लू एसपी ने सुरक्षा अधिकारी को थप्पड़ मारा तो सुरक्षा अधिकारी ने एसपी को लात मारी दिखाई दे रही है। पूरा विवाद क्या है यह जांच के बाद ही स्प्ष्ट होगा। इस मामले में पुलिस विभाग के मुखिया संजय कुंडू ने कड़ा संज्ञान लिया है और इसकी जांच के आदेश दिए है। सोशल मीडिया में पुलिस विभाग की पोस्ट के अनुसार केंद्रीय कैबिनेट मंत्री श्री नितिन गडकरी के कुल्लू दौरे के दौरान हुई घटना को पीएचक्यू ने कब्ज़ा किया । डीआईजी सेंट्रल रेंज श्री मधुसूदन पहले से ही इस मामले में जांच कर रहे हैं । डीजीपी, श्री संजय कुंडू भी मौके के लिए रवाना हो गए हैं स्थिति का जायजा लेने के लिए ।