जयराम सरकार ने इजाद की फूलगोभी से सरसों का तेल निकालने की तकनीक : राणा

203

आरोप : किसानों को दिया जा रहा घटिया बीज, हर मोर्चे पर सरकार फेल

हमीरपुर, 18 नवम्बर : प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा ने कहा है कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने फूलगोभी बीजने से सरसों का तेल निकालने की नई तकनीक इजाद की है। इस सरकार से ऐसी उम्मीद भी थी। केंद्र सरकार ने सरसों के तेल के दाम में बढ़ोतरी की है तो प्रदेश सरकार ने भी नया फार्मूला तलाश लिया। जारी प्रेस विज्ञप्ति में उन्होंने आरोप लगाया कि वर्तमान सरकार किसानों व बागवानों की हिमायती नहीं है। किसानों को गेहूं का घटिया बीज मुहैया करवाया जा रहा है। कई जगहों से ऐसी शिकायतें आ रही हैं तथा किसान इस बार की फसल को लेकर चिंतित हैं। राजेंद्र राणा ने कहा कि जुमलेबाजों की सरकार किसी भी वर्ग की हितैषी नहीं है। हर मुद्दे पर सरकार अपनी किरकिरी करवा रही है। जनसभाओं में सरकार की लड़ाई खुलकर सामने आ रही है। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री व मुख्यमंत्री एक-दूसरे पर अप्रत्यक्ष बात वर्षा कर अपनी-अपनी टीस निकाल रहे हैं, ऐसे में विकास कैसे संभव है। डबल इंजन से काम करने की दुहाई देने वाले अब आमने-सामने से खुद टकरा रहे हैं। केंद्र व प्रदेश की लड़ाई से विकास को ग्रहण लग गया है। जनता भी समझ नहीं पा रही है कि डबल इंजन शोरगुल में कहां गायब हो गया है। विधायक राजेंद्र राणा ने कहा कि पूर्व में वीरभद्र सिंह मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जिनके कार्यकाल में हमीरपुर में अथाह विकास हुआ है, लेकिन अब जयराम ठाकुर के मुख्यमंत्री बनने पर विकास कार्य ठप्प पड़े हैं तथा भाजपा की एक लाबी ही अपनी सरकार को फ्लाप करने के प्रयास में लगे हुए हैं तथा इसी खींचातानी में प्रदेश व हमीरपुर जिला विकास में पिछड़ रहा है।