तकनीकी काम मुफ्त सीखो और साथ में वजीफा भी पाओ, 20 अक्तूबर तक करें आवेदन

322

एससी-एसटी विकास निगम की योजना के लिए 20 अक्तूबर तक करें आवेदन

हमीरपुर 17 सितंबर। मोटर मैकेनिक, ड्राईविंग, वैल्डर, मोटर वाइंडिंग, इलेक्ट्रीशियन, ब्यूटीशियन, कंप्यूटर आपरेटर और इलेक्ट्रॉनिक्स रिपेयर जैसे तकनीकी कोर्स करने या फिर कंटिंग-टेलरिंग, बाल काटने, जूते बनाने, बांस की कारीगरी, खड्डी और अन्य पारंपरिक व्यावसायिक कार्यों का प्रशिक्षण प्राप्त करने के इच्छुक अनुसूचित जाति के गरीब युवक-युवतियों के लिए प्रदेश सरकार एक बहुत ही अच्छी योजना लेकर आई है।
हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम के माध्यम से चलाई जा रही दलित वर्ग व्यावसायिक प्रशिक्षण योजना के तहत अनुसूचित जाति के गरीब युवक-युवतियां न केवल तकनीकी प्रशिक्षण मुफ्त प्राप्त कर सकते हैं, बल्कि प्रशिक्षण के दौरान उन्हें 500 रुपये मासिक वजीफा भी मिलेगा। प्रशिक्षण की फीस भी निगम अदा करेगी।  इस योजना का लाभ लेेने के इच्छुक जिला के पात्र युवक-युवतियां 20 अक्तूबर तक हमीरपुर स्थित हिमाचल प्रदेश अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम के जिला प्रबंधक कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं।
सालाना 35 हजार रुपये से कम आय वाले अनुसूचित जाति परिवार के युवक-युवतियां इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। आवेदक की आयु 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। कंप्यूटर कोर्स के लिए आवेदक कम से कम बारहवीं पास होना चाहिए, जबकि अन्य सभी प्रशिक्षण कोर्सों के लिए दसवीं पास युवक-युवतियां भी आवेदन कर सकती हैं।
अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति विकास निगम के जिला प्रबंधक देशराज भारद्वाज ने बताया कि इच्छुक युवक-युवतियां 20 अक्तूबर तक किसी भी कार्यदिवस को सभी आवश्यक दस्तावेजों सहित जिला प्रबंधक कार्यालय हमीरपुर में आकर अपने आवेदन जमा करवा सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ हिमाचली प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आईआरडीपी प्रमाण पत्र या 35 हजार रुपये से कम वार्षिक आय का प्रमाण पत्र, शैक्षणिक योग्यता के प्रमाण पत्र तथा दो पासपोर्ट साइज फोटो संलग्न किए जाने अनिवार्य हैं।
अधिक जानकारी के लिए निगम के जिला प्रबंधक कार्यालय के दूरभाष नंबर 01972-222402 पर संपर्क किया जा सकता है।