नगर परिषद मंडी के वार्डों का परिसीमन, अधिसूचना जारी

369

नगर निकाय वार्डों के परिसीमीन व आरक्षण की अधिसूचना जारी
205 आक्षेपों व सुझावों का किया गया निष्पादन

मंडी, 21 अगस्त: हिमाचल प्रदेश राज्य चुनाव आयोग द्वारा जिला मंडी में नगर निकायों के वार्डों के परिसीमीन व आरक्षण बारे जून माह में अधिसूचना जारी की गई थी। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि इस सन्दर्भ में 16 जुलाई तक लोगों के सुझाव व आक्षेप मांगे गए थे।
उपायुक्त ने बताया कि इस दौरान नगर परिषद सुन्दरनगर से 28, नगर परिषद मंडी से 3, नगर पंचायत करसोग से 165, नगर पंचायत सरकाघाट से 1, नगर परिषद जोगिन्द्र नगर से 8 आक्षेप व सुझाव प्राप्त हुए जबकि नगर पंचायत रिवालसर से काई भी आक्षेप व सुझाव प्राप्त नहीं हुआ। प्राप्त आक्षेपों व सुझावों का नियमानुसार निष्पादन कर परिसीमन के अंतिम प्रकाशन को जन साधारण के लिए जारी कर दिया गया है। प्रकाशित वार्डों के परिसीमन की सूचना निम्न प्रकार से है

नगर परिषद, मण्डी के वार्डो का परिसीमन
क्र0स0 नगर परिषद, का नाम मण्डी वार्ड सख्या व नाम वार्डो के सीमा क्षेत्र
1. मण्डी वार्ड न0-01 खल्यार उत्तर दिशा में पठान कोट सडक पर 3 किलोमीटर से उपर की तरफ पूर्व व मण्डी कटौला सडक तक व मण्डी कटौला सडक के साथ-साथ एस0एस0बी0के0 मकानों के साथ जो नाला जाता है वहां तक और फिर नाले की आरे ढांगसी धार से होते हुए नीचे दक्षिण की ओर श्री राम लोक नाई की दुकान  के साथ व्यासा पुल तक फिर पुल से लेकर नीचे टिम्बर डिपु से आगे व्यास नदी के किनारे से नीचे व्यास नदी के किनारे-किनारे मण्डी पठानकोट रोड 3 किलोमीटर तक जंहा से यह सीमा आरम्भ हुई है।
2. वार्ड न0-02 पुरानी मण्डी उत्तर दिशा में व्यासा पुल के पूर्व की ओर ढांगसी धार तक फिर वहां से दक्षिण की ओर श्यामा सैन नौण तक, वहां से सीधे वासनी से होते हुए महकमा जगलात की कालौनी व कार्यालय के उपरी भाग के साथ-साथ भ्युली मन्दिर तक वहां से व्यासा नदी के किनारे से होते हुए पश्चिम की ओर व्यास पुल तक जहां से यह सीमा आरम्भ हुई है।
3. वार्ड न0-03 पैलेस कालौनी-01 उत्तर दिशा में सकोडी खडड पर बने मोटर योग्य पुल के ठीक सामने स्टेट बैंग वाली गली को साीमा मानते हुए पहला मकान केनारा बैंक व उपर की ओर स्टेट बैंक वाला भवन सम्मिलित करते हुए उसके सामने उपर की ओैर टीका महल की पुरानी सिडियों से होते हुए श्री पदम सिंह गुलेरिया के मकान को व श्री माघवानन्द के घ्र को सम्मिलित करते हुए उसके ठीक उपर पानी के टैकों के साथा दक्षिण दिशा के सभी  सभी मकानो को सम्मिलित करते हुए गन्धर्व जंगल तक वहां से आगे जंगल के साथ-साथ तुगंल कालोनी भंगाउली तथा श्री ताराचन्द मलहोत्रा के बागीचा के साथ होते हुए श्री अमर सिंह की जमीन जंगल के साथ-साथ तवाम्बडा नाले तक वहां से नाले के साथ-साथ लोक निर्माण विभाग मैजिस्टेट कालोनी को पार करते हुए श्री टेक चन्द मास्टर के घर तक वहां से नीचे जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय व शिक्षा कालोनी जेलरोड व नाले के साथ-साथ सकोडी पुल जहां श्री फौजा सिंह की दुकान के आगे पुल तक तथा रिवालसर रोड को पर करके केनरा बैंक तक जहां से यह हद शुरू हुई थी।
4. वार्ड न0-04 लोअर सुहडा द़िक्षण दिशा में सकोडी पुल से अस्पताल रोड के साथ नीचे की ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए अस्पताल के गेट तक वहां से नीचे की ओर जो नाला जाता है को सीमा  मानते हुए सकोडी खडड को पार करके तथा वहां से खडड के उपर की तरफ जहंा पर पालिका शौचालय है वहां पर पालिका की बडी नाली से होते हुए सुहडा मुहल्ला चौक तक तथा वहां से उपर को पालिका रास्ता जो महाजन बाजार को जाता है से होते हुए दक्षिण दिशा के सभी मकानों को सम्मितिल करते हुए पुलिस चौकी हिमाचल ग्रामीण बैंक तक तथा वहां से दिल राम एण्ड कम्पनी को सम्मिलित करते हुए पुनः सकोडी खडड के पुल तक जहां से सीमा आरम्भ हुई थी।
5. वार्ड न0-05 पैलस कॉलोनी-2 दक्षिण में श्री तन्ना राम के घर जिसके निचली मंजिल में यूनियन बैंक आफ इण्डिया स्थित है से आरम्भ होकर स्टेट बैंक वाली गली को सीमा मानते हुए टीका  पैलेस को जाती हुई सीढीयों के उत्तर की ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए श्री माधवानन्द (टीका पैलेश) के मकान को छोडकर ठीक उपर पानी के टैन्को के उपर की ओर से सभी मकानो को सम्मिलित करते हुए गन्धर्व जंगल के साथ-साथ उत्तर की ओर चलते हुए गणपति नाला को पार करके सदोह सडक के उपर व नीचे के सभी मकानों को जो नगर परिषद क्षेत्र में है, रघूनाथ पधर (कुष्ट रोगी कालोनी) को सम्मितित करते हुए नीचे व्यास नदी तक फिर वहां से नदी के साथ उप्पर की आरे सकोडी खडड के पश्चिम की ओर के सभी मकानों (सैण मुहला) सम्मिलित करते हुए अस्पताल के मुख्य गेट के साथ निचे नाले तक फिर उपर की आरे अस्पताल के भवनो को सम्मिलित करते हुए गेट तक मुख्य सडक की सीमा मानते हुए दक्षिण की ओर चलते हुए उपर की ओर से सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए सकोडी पुल (मोटर योग्य) के पास युनियन बैंक आफ इण्डिया वाले भवन तक जहां से सीमा आरम्भ हुई थी।
6. वार्ड न0-06 लोयर समखेतर विक्टोरिया पुल के पश्चिम किनारे से मुख्य सडक के नीचे की ओर के भाग को सम्मिलित करते हुए आगे गोल पौडियां तक वहां से उपर को खुआरानी स्ट्रीट को सीमा मानते हुए उपर परिषद की बडी सडक चरण पादुका तक वहां से उत्तर की ओर पलाखा बाजर की ओर सडक से नीचे के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए नेश्नल स्ट्रीट की ओर मुडकर और उसे सीमा मानते हुए उत्तर की ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए पंजाब नैश्नल बैंक के सामने मण्डी पठानकोट सड़क तक वहां से सड़क के साथ-साथ चौहटा की ओर चलते हुए मोती बाजार में परिषद के मुत्रालय के साथ महाजन बाजार की ओर जाती हुई गली को सीमा मानते हुए महाजन बाजार की मुख्य गली तक वहां से पश्चिम की ओर गली से उतरते हुए सुहडा मुहल्ला के चौक तक वहां से नीचे उत्तर की ओर नगर परिषद की बडी नाली को सीमा मानते हुए सकोडी खडड के पास परिषद के शौचालय के सामने से खडड के साथ-साथ पूर्वी किनारे की ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए जिसमें जिला कोषागार व विद्युत विभाग के सभी कार्यालय आदि है व्यास नदी के पश्चिम किनारे से विक्टोरिया पुल तक जहां सीमा आरम्भ हुई थी।
7. वार्ड न0-07 अप्पर समखेतर गंाधी चौक में गांधी बुत के सामने से जो सडक नगर परिषद कार्यालय की ओर जाती है के दाहिनी ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए जिसमें नगर परिषद का टाउन हॉल व परिषद का कार्यालय है उसी सडक को सीमा मानते हुए महाजन बाजार की ओर पूर्व में स्थित सभी मकान महाजन बाजार के बीच में जो गली मोती बाजार मुत्रालय की ओर जाती है को सीमा मानते हुए मुख्य सडक (मण्डी पठानकोट) को पार करके नेश्नल स्ट्रीक की ओर मुडकर उस स्ट्रीट को सीमा मनते हुए उसे दक्षिण के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए पलाखा बाजार से बालकरूपी मन्दिर वाली सडक तक तथा उसे सीमा मानते हुए दक्षिण की ओर बालकरूपी मन्दिर तक फिर भुतनाथ गली की सीमा मानते हुए भुतनाथ मन्दिर से होते हुए चौहटा की सड़क को सीमा मानते हुए गांन्धी वृत के सामने परिषद कार्यालय की ओर जाने वाली गली तक जंहां से सीमा आरम्भ हुई थी।
8 वार्ड न0-08 दरम्याना चौहटा बाजार के चौहटा स्ट्रीक की ओर जहां श्री परमानन्द की पहली दुकान है वहा से उस गली को सीमा मानते हुए उत्तर की ओर सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए नीचे जो गली (खनक स्ट्रीट) दक्षिण की ओर मुडती है उसे सीमा मानते हुए आगे स्वामी कृष्णा नन्द के घर के पास से जो गली भगवाहन की ओर जाती है उसे सीमा मानकर श्री मेघ सिंह अरोडा के मकान को सम्मिलित करते हुए उत्तर की ओर मुडकर फिर पूर्व की ओर जो गली श्री हरिधर की दुकान के साथ श्री हेमकान्त कात्ययान के घर की आरे जाती है को सीमा मानकर पं0 टीकू के मकान तक बंगला चौक की ओर मुडते हुए तथा बंगला चौक और भगवान चौक वाली गली को सीमा मानकर बंगला चौक तक वहां से नीचे शिवा वावली के साथ परिषद शौचालय तक तथा वहां से सुकेती खडड व व्यास नदी के पश्चिम किनारे से होते हुए आगे विकटोरिया पुल के पश्चिम किनारे से होते हुए मण्डी-पठानकोट सडक को सीमा मानते हुए गोल पोडियों तक वहां से सीढी चढते ही जो गली बजीर हाउस की ओर जाती है को सीमा मानते हुए वजीर हाउस तक भुतनाथ गली से होते हुए भूतनाथ मन्दिर के सामने चौहटा तक फिर दक्षिण की ओर मुडते हुए चौेहटा गली के आरम्भ होने तक जहां से सीमा आरम्भ होती है ।
9. वार्ड न0-09 लोयर भगवाहन सुकेती पुल (मोटर योग्य) हरियाणा हैण्डलूम से आरम्भ होते हुए उत्तर की खडड के साथ-साथ शिवा बावली तक वहां से उपर को बंगला चौक तक फिर दक्षिण की ओर मुडते हूए भगवाहन चौक की ओर पं0टिकू के मकान के सामने तक फिर उपर को श्री कमलापति कपूर घर के साथ-साथ तथा उस मकान को सम्मितिल करते हुए भगवान स्ट्रीट तक श्री हरधर की दुकान के सामने-भगवाहन गली को सीमा मानते हुए दक्षिण की ओर मुडकर फिर उपर पुरानी लाईब्रेरी कोर्ट आदि की ओर आने वाली को सीमा मानते हुए उपायुक्त कार्यालय के पिछवाडे सडक के पार के सभी मकानों को सम्मितिल करते हुए मुख्य डाकघर के साथ जाने वाली सडक को सीमा मानते हुए माई-साहिबा के बेहडा के साथ-साथ केसरी बंगला तथा दूरभाष केन्द्र को सम्मिलित करते हुए मुख्य सडक को सीमा मानते हूए सिनेमा हाल और पुराना बस अडडा की ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए मुख्य सडक को सीमा मानकर सुकेती पुल हरियाणा हैण्डलूम तथा जहां से सीमा आरम्भ हुई थी।
10. वार्ड न0-10 अप्पर भगवाहन उत्तर की आरे चौहटा बाजार में कोर्ट की पुरानी इमारत के गेट के सामने फलैक्स बूट हाउस से आररम्भ होते हुए चौवाटा गली के शुरू में श्री बलीभद्र लछमण दास की दुकान तक फिर चौहआ गली को सीमा मानते हुए दाई ओर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए पूर्व में श्री तारू राम पूर्व उप-प्रधान नगर पालिका की दुकान के सामने दक्षिण की आरे खनक स्ट्रीट की ओर मुडकर और उस सीमा मानते हुए स्वामी कृण्षा नन्द के मकान को सम्मिलित करते हुए उपायुक्त कार्यालय भवन के पिछवाडे उपायुक्त कार्यालय को व कोर्ट आदि को शामिल करते हुए मुख्य डाकघर,र ाजमहल माई सहिवा का बेहडा शामिल करते हुए दूरभाष केन्द्र के साथ मुख्य सडक के होकर और उसे सीमा मानकर मंगवाई के आरम्भ में पं0 नन्द लाल के घर तक वहां से उपर को सीढियों को चढकर और उन्हें सीमा मानकर श्री रोशन लाल के घर तक, वहां से दक्षिण की ओर मुडकर नगर परिषद का रास्ता जो कि कबीर मन्दिर की आरे जाता है को सीमा मानकर दक्षिण में वहां तक जहां एम्बुलैन्स सडक से आकर मिलती है। फिर वहां से एम्बुलैन्स सडक के टारना सिढियों की आरे मुडकर और उसे सीमा मानकर पश्चिम में वहां तक जहां यह सडक मुख्य पक्की सडक से और सीढियों के पास आकर मिलती है फिर वहां से सीढियों के पास आकर नीचे उतरते हुए दाई ओर के सभी मकानों को शामिल करके और सीढियों को सीमा मानकर उत्तर पश्चिम में बाजार की मुख्य सडक से होते हुए सकंन गार्डन व्यापारिक परिसर को व परिषद की पुरानी पक्की दुकानो को जो पश्चिम की ओर है औ मैं0 दिलू राम एण्ड सन्ज के सामने है, को सम्मिलित करते हुए गांघी बुत की बाई ओर की सडक को सीमा मानते हुए उत्तर में चौहटा बाजार तक जहंा से सीमा आरम्भ हुई थी।
11. वार्ड न0-11 थनेहडा पूर्व में संन गार्डन व्यापारिक परिसर के पश्चिमी किनारे के सामने लाल होटल भवन से शुरू होते हुए उत्तर की ओर मुख्य सडक को सीमा मानते हुए पुराना डाकघर भवन को सम्मिलित करते हुए स्कूल बाजर की ओर बाई ओर के सभी मकानो को शामिल करते हुए सकोडी पुल तक वहां से सकोडी खडड के साथ साथ उत्तर की आरे रेशम अधिकारी के कार्यालय को शामिल करके माईक्रोेवेव टावर के साथ-साथ नीचे उतरते हुए मगबांइ की ओर रास्ते से होकर जो श्री गटू राम के घर के साथ आकार एैम्बुलैश सडक तक फिर उस सडक को सीमा मानकर उपर टारना को जाने वाली पक्की सडक तक और फिर सिडियां उतरते हुए तथा वाई आरे के के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए और सीढियों को सीमा मानते हुए दक्षिण की आरे लाल होटल भवन तक जहां से सीमा आरम्भ हुई थी।
12. वार्ड न0-12 ग्ंगवाई उत्तर में मण्डी सुन्दरनगर रोड में सरदार सन्तोख सिह की दुकान से नीचे को भवानी सिंह आदि के मकानों को सम्मिलित करते हुए सुकेती खडड तक विश्वकर्मा मन्दिर को सम्मिलित करते हुए खडड के साथ-साथ पुल घराट पुल तक उपर के सभी मकानों को सम्मिलित करते हुए तथा जहां चंुगी चौकी न0 2 थी वहां तक फिर मण्डी सुन्दर नगर सडक को पार करके आगे सुन्दरनगर की ओर पुरदिता की दुकान को सम्मितिल करके तथा उस के साथ वाले नाले तक के उपर के मकानांे को सम्मितिल करते हुए मझउी की ओर जसूराम चमन लाल के बगीचे के सभी घरों को सम्मिलित करते हुए नाले की आरे श्री राजकुमार टेलर मास्टर व डी0एफ0सी0 श्री चन्देल के घर को सम्मिलित करके नाले के पार श्री गटू राम के घर से नीचे पालिका की सडक से नीचे आगे मण्डी की तरफ पं0 नन्द लाल के मकान के सीधे नीचे सरदार सन्तोश सिंह की दुकान तक जहां से यह सीमा आरम्भ हुई है।
13. वार्ड न0-13 पडडल सुकेती पुल से उपर बस स्टाप पुलिस लाईन को सम्मिलित करते हुए उपर की आरे जो कच्चा रास्ता जाता है से सीधे उपर श्री पुष्पराज के घर होते हुए टुरिस्ट लॉज व लोक निर्माण विभाग की इमारत को सम्मिलित करते हुए नीचे टुरिस्ट लॉज के रास्ते से होते हुए बस स्टैण्ड को सम्मिलित करते हुए आगे पार्षद की पुरानी चुगी को सम्मिलित करते हुए आगे गुरद्वारा गोबिन्द सिंह सडक के साथ-साथ उपर व नीचे के घरों को सम्मिलित करते हुए आगे हिमाचल सौली खडड तक के उप्पर व नीचे के सभी चारों को सम्मिलित करते हुए आगे हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम की वर्कशाप कार्यालय से होते हुए चभुबा सडक से नीचे व कुल्लू रोड की तरफ की मोती राम के घर को शामिल करते हुए वहां से सीधे नीचे व्यास नदी तक वहां से व्यास नदी के किनारे-किनारे  मण्डी की ओर उपर की तरफ कोलसरा चटटान व आगे दरिया के उपर की ओर कालेज जिमखाना कल्व व उपर के सभी घरों को सम्मिलित करते हुए पंचवख्तर मन्दिर तक वहां सुकेती व व्यास का संगम होता है वहां से उपर की ओर सुकेती खडड के किनारे-किनारे आई0टी0आई0 से होते हुए सुकेती पुल तक व जहां से सीमा आरम्भ हुई थी वहां तक।