परिवहन निगम में करूणामूलक आधार पर नौकरी का कोटा बढ़ाने का प्रस्ताव सरकार को भेजा जाएगाः बिक्रम सिंह

268

परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ने आज यहां हिमाचल पथ परिवहन निगम के निदेशकमण्डल और हिमाचल प्रदेश शहरी परिवहन और बस अड्डा प्रबन्धन एवं विकास प्राधिकरण के निदेशकमण्डल की बैठक की अध्यक्षता की।

बिक्रम सिंह ने कहा कि निगम करूणामूलक आधार पर नौकरी प्रदान करने का कोटा 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 10 प्रतिशत करने का प्रस्ताव प्रदेश सरकार के समक्ष रखेगा। निदेशकमंडल की पिछली बैठक में इस संदर्भ में प्रस्ताव पारित किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि निगम शीघ्र ही चालकों के ड्राइविंग टैस्ट करवाएगा और चालकों के 491 पदों को भरा जाएगा। पेंशनधारकों को राहत प्रदान करने के उद्देश्य से शीघ्र ही पेंशन प्रदान करने के प्रयास भी किए जाएंगे।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निगम की भूमि और सम्पत्तियों पर अवैध कब्जा करने वालों की जानकारी एकत्र की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निगम के लिए बसों की खरीद प्रक्रिया में तीव्रता लाई जाए। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान निगम को हुई वित्तीय क्षति को पूरा करने के लिए प्रदेश सरकार ने निगम को 353 करोड़ रुपये प्रदान किए हैं।

परिवहन मंत्री ने कहा कि विभाग ई-परिवहन व्यवस्था के माध्यम से विभिन्न प्रकार की सेवाएं उपलब्ध करवा रहा है। बद्दी में 16.50 करोड़ रुपये की लागत से सभी प्रकार के वाहनों की निरीक्षण के लिए स्वचालित निरीक्षण और परीक्षण केन्द्र स्थापित किया जा रहा है। सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में पीपीपी मोड पर 40 करोड़ रुपये की लागत से मोबाइल स्वचालित जांच केन्द्र भी स्थापित किए जाएंगे।

बिक्रम सिंह ने कहा कि हमीरपुर जिले के नादौन में 27.20 करोड़ रुपये की लागत से परिवहन नगर स्थापित किया जाएगा। यहां ड्राइविंग और टैस्टिंग ट्रैक, ड्राइविंग स्कूल, वर्कशाॅप आदि बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने परिवहन विभाग में सड़क सुरक्षा सैल का गठन भी किया है।

बैठक में निगम उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री, प्रधान सचिव परिवहन के.के पंत, निगम के प्रबन्ध निदेशक संदीप कुमार, निदेशक अनुपम कश्यप सहित बोर्ड के गैर- सरकारी सदस्य उपस्थित थे।