पहले एमबीबीएस बैच 2020 के शैक्षणिक सत्र का उद्घाटन

239

बिलासपुर 12 जनवरी:- पहले एमबीबीएस बैच 2020 के शैक्षणिक सत्र का उद्घाटन समारोह 11 जनवरी को एम्स बिलासपुर में आयोजित किया गया था। पहले बैच में 48 छात्र शामिल है। समारोह का उद्घाटन संस्थान बॉडी, एम्स बिलासपुर के अध्यक्ष प्रो0 प्रमोद गर्ग ने किया। निदेशक, एम्स बिलासपुर प्रो0 जगत राम, (नोडल अधिकारी) डॉ राकेश सहगल, डीन एकेडमिक्स प्रो संजय विक्रांत, उप निदेशक (प्रशासन) लेफ्टिनेंट कर्नल एस नागियाल सेना पदक उपस्थित रहे। इसके अतिरिक्त सभी संकाय और एमबीबीएस छात्रों ने समारोह में भाग लिया।
इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण एमबीबीएस छात्रों में शामिल होने का व्हाइट कोट समारोह था। प्रोफेसर जगत राम ने स्वागत भाषण में मेडिकल छात्रों के अनुशासित जीवन पर जोर दिया जो इस संस्थान के भावी डॉक्टर बनने जा रहे हैं।
मुख्य अतिथि प्रो0 प्रमोद गर्ग ने एम्स बिलासपुर की स्थापना पर प्रकाश डाला कि जो इक्विटी के साथ गुणवत्ता स्वास्थ्य देखभाल प्रदान करने, चिकित्सा शिक्षा के उच्च मानकों को लागू करने और अनुसंधान को बढ़ावा देने में एक लंबा रास्ता तय करेगा। उन्होंने एमबीबीएस के नए छात्रों को बधाई दी और उन्हें सीखने के इस मंदिर में अपना जीवन समर्पित करने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने प्रधान मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को देशभर में एम्स स्थापित करने के लिए उनके नेतृत्व और दृष्टि के लिए धन्यवाद दिया। देश में चिकित्सा सेवाओं को बढ़ाने के लिए बिलासपुर में एम्स को स्थापित करने के लिए पूर्व केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा का भी धन्यवाद किया। उन्होंने संस्थान के निरंतर समर्थन के लिए हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का भी आभार व्यक्त किया।
उन्होंने एम्स बिलासपुर के संकाय सदस्यों के साथ भी बातचीत की और निकट भविष्य में इस नवोदित संस्थान को प्रीमियर संस्थान बनाने का आग्रह किया। डॉ. राकेश सहगल ने वोट ऑफ थैंक्स का प्रस्ताव रखा और विशेष रूप से संस्थान के उप निदेशक (प्रशासन) लेफ्टिनेंट कर्नल एस नागियाल सेना पदक के प्रयासों की सराहना की।
समारोह के उपरांत संस्थान के अध्यक्ष ने परिसर का दौरा किया और एम्स के चल रहे बुनियादी ढांचे के विकास का जायजा लिया और संस्थान को समय पर पूरा करने के लिए निर्देश दिए।