पीएम-केयर्स फंड पर सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला कांग्रेस के मंसूबों पर कुठाराघात:अनुराग ठाकुर

203

 

18 अगस्त 2020,हिमाचल प्रदेश :केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कोरोना आपदा से देशवासियों को राहत पहुँचाने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में गठित पीएम-केयर्स फंड पर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले को कांग्रेस पार्टी द्वारा की जा रही ओछी राजनीति पर कुठाराघात बताते हुए इस निर्णय को सच्चाई की जीत बताया है।

श्री अनुराग ठाकुर ने कहा”देशवासियों को कोरोना आपदा से उबारने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने के नेतृत्व में पीएम-केयर्स फंड का गठन कर इसके माध्यम से लोगों की सहायता करने का कार्य मोदी सरकार द्वारा किया गया।कोरोना जैसी किसी भी आपातकालीन स्थिति या आपदा से निपटने और उससे प्रभावित लोगों को तत्काल राहत प्रदान करने के लिए यह फंड बनाया गया है। संकट या आपदा के समय प्रभावित लोगों को आर्थिक मदद के साथ इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण के लिए इस फंड का निर्माण जरूरी समझा गया।मगर कांग्रेस पार्टी इस आपदा के समय में भी अपनी ओछी राजनीति से बाज नहीं आई और पीएम केयर्स फंड को लेकर ग़लतबयानी व भ्रामक प्रचार प्रसार का कार्यक्रम शुरू कर दिया।आज इस लिहाज़ से माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिया गया निर्णय अत्यंत महत्वपूर्ण है जिसमें सर्वोच्च न्यायालय ने पीएम केयर्स फंड के मामले ने फैसला सुनाते हुए पीएम केयर्स फंड का पैसा नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फंड (एनडीआरएफ) में ट्रांसफर करने का आदेश नहीं देने व दोनों फंड के अलग अलग होने का निर्णय दिया है।माननीय सुप्रीम कोर्ट के इस महत्वपूर्ण निर्णय ने कांग्रेस द्वारा प्रायोजित प्रोपगंडा की हवा निकालने व उनकी ओछी राजनीतिएवं दुर्भावना पर कुठाराघात करने का काम किया है।यह सच्चाई की जीत है”

आगे बोलते हुए श्री अनुराग ठाकुर ने कहा”केंद्र की मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ ज़ीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई है जिसे संवैधानिक संस्थाओं ने प्रमाणित किया है। मोदी सरकार ईमानदारी के साथ काम करती है इसलिए जनता का आशीर्वाद मिलता है और वही ईमानदारी पीएम केयर्स फंड में भी दिखाई पड़ती है ।पीएम केयर्स फंड से अब तक 3,100 करोड़ रुपये कोरोना के खिलाफ लड़ाई में दिए गए हैं, जिसमें से 2000 करोड़ रुपये वेंटिलेटर्स के लिए दिए गए हैं।50,000 वेंटिलेटर्स पीएम केयर्स फंड के माध्यम से उपलब्ध कराए गए हैं।जो आजादी के बाद से आज तक सर्वाधिक हैं।पीएम केयर्स फंड से 1000 करोड़ रुपये राज्यों को प्रवासी मजदूरों की व्यवस्था के लिए दिए गए। 100 करोड़ रुपये कोरोना की वैक्सीन के अनुसंधान के लिए दिए गए हैं।देश की ईमानदार जनता ने अपनी मेहनत की कमाई से पीएम केयर्स फंड में दान देकर कोरोना के ख़िलाफ़ जंग में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के हाथों को मजबूत करने का काम किया मगर कांग्रेस पार्टी ने इस पर सवालिया निशान लगा कर सवा सौ करोड़ देशवासियों के जज़्बे का अपमान किया है जिसके लिए उन्हें देश से माफ़ी माँगनी चाहिए।