प्रदेश सरकार का मुख्य लक्ष्य ग्रामीण व्यवस्था को सुदृढ़ करना – राजेन्द्र गर्ग

366

घुमारवीं विधानसभा में जल जीवन मिशन के अंतर्गत 85 करोड़ रुपये किए जा रहे व्यय
घुमारवीं में जून, 2021 हर घर में नल उपलब्ध करवाया जाएगा
बिलासपुर 16 अगस्त:- खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री
राजेन्द्र गर्ग ने आज घुमारवीं विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत सलाओं में
लगभग 92.41 लाख से निर्मित की जाने वाली उठाऊ पेयजल योजना सलाओं, माकड़ी व
भदरेट का शिलान्यास लगभग 4 लाख 65 हजार रुपये की लागत से निर्मित
सामुदायिक शैड का उद्घाटन, भपराल में लगभग 3 लाख रुपये की लागत से बनने
वाले महिला मण्डल भवन का शिलान्यास तथा दधोल खुर्द में लगभग 3 लाख रुपये
की लागत से बनने वाले सामुदायिक भवन का शिलान्यास किया।
इस अवसर पर उन्होंने सम्बोधित करते हुए कहा कि घुमारवीं में शीघ्र ही
मिनी सचिवालय का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि घुमारवीं अस्पताल
में 50 बिस्तरों की संख्या को बढ़ाकर 100 बिस्तरों की सुविधा उपलब्ध करवा
दी गई है। उन्होंने कहा कि घुमारवीं में एचआरटीसी के सब स्टेशन के कार्य
भी आरम्भ हो चुका है।
उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत प्रदेश में तीव्र गति से काम शुरू
हो चुका। प्रदेश सरकार प्रत्येक व्यक्ति को समुचित मात्रा में पेयजल
उपलब्ध करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि सरकार ने हर घर को
नल के माध्यम से शीघ्र अति शीघ्र जल उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जा रहे
है। उन्होंने कहा कि घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के लिए जल जीवन मिशन के
अंतर्गत 85 करोड़ रुपये स्वीकृति किए गए है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन
के तहत घुमारवीं विधानसभा में जून, 2021 हर घर में नल उपलब्ध करवाने का
लक्ष्य रखा गया है।
उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में सुचारू पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए
प्राथमिकता से कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 92.41 लाख से
निर्मित की जाने वाली उठाऊ पेयजल योजना सलाओं, माकड़ी व भदरेट के निर्मित
होने से क्षेत्र के लगभग 1 हजार लोगों को समुचित मात्रा में शुद्ध पेयजल
उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि इस योजना से पूरी पंचायत कवर होगी।
उन्होंने बताया कि यह योजना को दिसम्बर माह तक पूर्ण कर लिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में 11 योजनाओं का सवर्धन
किया जा रहा है। जिनके लिए लगभग 85 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।
उन्होंने कहा कि लगभग 53 करोड़ रुपये कि पेयजल योजना कोल डैंम से घुमारवीं
विधानसभा के लिए स्वीकृत हुई है। उन्होंने कहा कि लोगों को सुचारू रुप से
पेयजल सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए जहां-जहां पानी की कमी होगी उन्हें इस
योजना के साथ जोड़ा जाएगा।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का मुख्य लक्ष्य ग्रामीण व्यवस्था को सुदृढ़
करना है ताकि सभी लोगों को उनके घर-द्वार पर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हो।
उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में बिजली की समस्या से लोगों को निजात
दिलाने के लिए जाहू में 33 के.बी. सब-स्टेशन स्वीकृत किया गया है।
उन्होंने कहा कि इसके लिए बम में एक सब-स्टेशन बनाया जाएगा और उसके
उपरांत उसको भराड़ी के साथ जोड़ा जाएगा ताकि कम बोल्टेज की समस्या से निजात
मिल सके। उन्होंने बताया कि इसके लिए 8 करोड़ रुपये भी स्वीकृत हो चुके
है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में 5 नए ट्रांसफार्मर भी लगाए गए है।
उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को यातायात की सुविधा
प्रदान करने हेतु ढल्याणी सड़क के लिए 1.5 लाख रुपये स्वीकृत किया है और
उसका कार्य पूरा हो चुका है। उन्होंने कहा कि लिंक रोड सलाओं से गांव
कामली तक के लिए 2 लाख रुपये स्वीकृति किए गए थे और उस सड़क का कार्य पूरा
हो चुका है। उन्होंने कहा कि बड़ा दा घाट से सलाओं 4 किलोमीटर की सड़क का
कार्य शुरू हो चुका है जिसमें 3 किलोमीटर सड़क का कार्य पूरा हो चुका है
और शेष कार्य बरसात के उपरांत पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि
द्रुग खडड के पुल के लिए 55 लाख रुपये स्वीकृत हो चुका और जिसके लिए
टैंडर प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है।
उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त क्षेत्र के विकास के लिए विभिन्न कार्यों
पर 17 लाख 65 हजार रुपये स्वीकृत किए गए है। इनमें से अधिकांश कार्य
पूर्ण कर लिए गए है तथा शेष कार्य प्रगति पर है। उन्होंने सलाओं पंचायत
के लिए सोलर लाईट देने की घोषणा की है। शमशानघाट के लिए 10 लाख रुपये
स्वीकृत किए।
इस अवसर पर उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना और उनका समाधान किया।
इस मौके पर पूर्व मण्डलाध्यक्ष नरेन्द्र ठाकुर, मण्डल महामंत्री राजेश
ठाकुर, प्रधान ग्राम पंचायत भपराल अंजू राणा, एसडीएम शशिपाल शर्मा, बीडीओ
जीत राम, अधिशाषी अभियन्ता जल शक्ति विभाग सतीश, अधिशाषी अभियन्ता लोक
निर्माण विभाग मनोहर लाल शर्मा, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत अनिल सहगल के
अतिरिक्त अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
.0.