फसल की इंश्योरेंस का पूर्ण लाभ मिले इसकी योजना बननी चाहिए : कश्यप

133

• शिमला ज़िला की दिशा बैठक में हुई अहम मुद्दों पर चर्चा
• हिमाचल प्रदेश लोक निर्माण विभाग कामों की गति बढ़ाए और पुराने कामों को जल्द पूरा करे
• अधिकारी बैठक में कामों के कागजाद साथ लाए
• स्कीमों को लेकर जनता को जागरूक करें सभी विभाग, जनता को मिल सकता है बड़ा लाभ

शिमला, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद शिमला सुरेश कश्यप ने शिमला ज़िला की दिशा की बैठक की अध्यक्षता की, सांसद सुरेश कश्यप का स्वागत अतिरिक्त उपायुक्त किरण भड़ाना द्वारा किया गया।
बैठक में सुरेश कश्यप के साथ अतिरिक्त ज़िला मजिस्ट्रेट सचिन कंवल, विधायक राकेश सिंघा, ज़िला परिषद अध्यक्ष चंद्रा प्रभा नेगी, महापौर शिमला सत्या कौंडल, नगर निगम आयुक्त आशीष कोहली व 29 विभागों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
बैठक में कुल 20 बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा की गई।
हिमाचल प्रदेश लोक निर्माण विभाग ने आने कार्यों की विस्तृत ब्योरा दिया, सांसद सुरेश कश्यप ने कामों की प्रगति को लेकर सभी अधिकारियों कार्यो की गति बढ़ने के आदेश दिए। उन्होंने 2017-18 के 10 एसे कामों पर सवाल उठाए जिसमें काम शुरू नही हुआ कई काम 2013-14 के भी अभी तक पूरे नहीं हुए। बैठक में कहा कि सभी कार्य जो चल रहे है उसमें सभी कागजाद अफसर साथ लाए।
संधू लंभिधार , कॉम्बरमेर नाला शिमला, में चल रहे काम पर हुई चर्चा।
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की प्रगति को तेज करने के आदेश जारी हुए। बैठक में अफसरों द्वारा बताया गया कि कई ठेकेदार की कुड़की हो गई और उन्हें बदला जा रहा है।
बैठक में खतरनाक पेड़ो को जल्द हटाने पर भी चर्चा हुई कि एसडीएम से जल्द लेनी चाहिए मंजूरी, अगर पेड़ गिरेंगे तो जनता को नुकसान हो सकता है।
बैठक में जल जीवन मिशन के अधिकारियों ने अपना ब्योरा रखा 2022 में हर घर को मिलेगा नल, 5 डिवीज़न में 129 स्कीम मंज़ूर जिसकी कुल लागत 39464 लाख होगा और 55466 घरों तक पानी पहुंचेगा। इस विभाग को सभी प्रतिनिधियों ने दी शाबाशी।
बैठक में कृषि विभाग ने अपने कामों से अवगत करवाया।नेशनल फ़ूड सिक्योरिटी मिशन में  2020-21 में 18.62 लाख के बजट का इंतज़ार है , 5 स्कीमों के अंतर्गत 7320 लाभार्थी जुड़े है।
राष्ट्रीय कृषि बाजार के तहत 4 मंडियों में 2020-21 में 12610 मीट्रिक टन काम काम हुआ जिसकी वैल्यू 59.54 करोड़ थी, 2021-22 में अभी तक 20940 मीट्रिक टन का कारोबार हुआ जिसकी कुल वैल्यू 30.10 करोड़ है।
बैठक में कहा गया कि कृषि को लेकर राष्ट्रीय स्कीमों का ज़्यादा से ज़्यादा प्रचार हो जिससे ज़िला शिमला के कृषकों को लाभ पहुंच सके। कश्यप ने कहा कि फसल की इंश्योरेंस का पूर्ण लाभ मिले इसकी योजना बननी चाहिए।
बागवानी विभाग से मांगा गया ग्रीनहाउस का पूरा ब्यौरा, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना पर हुई चर्चा। बैठक में मेकैनिकल उपकरणों, ट्रेक्टर व टिकलिंग मशीन की सबसिडी पर अवगत करवाया गया।
कश्यप ने कहा कि कई स्कीमों में 85% तक मिलती है सब्सीडी पर जनता को इन स्कीमों के प्रति जागरूक किया जाए, बहुत ज़्यादा लाभ मिल सकता हैं। विभाग को चलाना चाहिए जागरूकता अभियान।
महिला एवं बाल विकास विभाग ने भी दी प्रस्तुति, पूरक पोषाहार कार्यक्रमों से करवाया अवगत, अनौपचारिक स्कूल पूर्व शिक्षा अभियान में 28567 बच्चों को पहुंचा लाभ।
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के बारे में भी बताया गया 3 किश्तों में मिलता है 5 हज़ार रु का लाभ। जब से योजना शुरू हुई है अभी तज 19041लाभार्थियों को 7 करोड़ 87 लाख 75 हज़ार लाभ हुआ है।
श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन के बारे में अवगत करवाया
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टूटू का काम जल्द होगा शुरू और उसमें आने वाली समस्याओं के बारे में चर्चा की गई। नेशनल हेल्थ मिशन के बारे में भी बताया गया इसकी कई स्कीमों में कैटरेक्ट के इलाज के लिए भी मिलता है पैसा, ज़िला शिमला में आयुष्मान भारत मे अभी तक 8,322 लाभार्थियों को मिला है लाभ।
उद्योग विभाग में बताया कि 9595 लोगो को रोजगार उपलब्ध करवाया गया है, सीए स्टोर के बारे में बताया गया कि कुल 14 स्टोर बन चुके है जिसमे 52843 मीट्रिक टन की कैपेसिटी है।
इंडस्ट्रियल डेवेलपमेंट स्कीम में 304 करोड़ की इन्वेस्टमेंट होने जा रही है। किसान संपदा स्कीम के अंतर्गत 2 सीए स्टोर और बन रहे है जिसमे 8550 मैट्रिक टन की कैपेसिटी होगी।
बिजली विभाग ने भी दी अपनी प्रस्तुति , पिछली बैठक में हुए पूर्ण कार्य के बारे में बताया। चौपाल की बिजली समस्या सुलझी झिकनिपुल में खुला 22 केवी का कंट्रोल पॉइंट।
दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के बारे में करवाया अवगत करवाया।