महामारी व महंगाई ने निगला देश की आबादी का एक हिस्सा : राणा

111

महामारी व महंगाई ने निगला देश की आबादी का एक हिस्सा : राणा
बीजेपी की कारगुजारी से तंग जनता बेताबी से कर रही है चुनाव का इंतजार
हमीरपुर 18 सितंबर
प्रदेश विधानसभा चुनाव अब करीब-करीब सिर पर हैं जबकि प्रदेश में संसदीय चुनाव के साथ तीन-तीन उपचुनाव बीजेपी के गले की फांस बने हुए हैं। बीजेपी उप चुनावों से तरह-तरह के बहाने लगाकर भागना चाह रही है। यह बात राज्य कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा ने यहां जारी प्रेस बयान में कही है। राणा ने कहा कि स्टेट और सेंटर की सरकारों की कारगुजारी के कारण देश और प्रदेश की जनता बेहद तंग है। महंगाई आसमान छू रही है, बेरोजगारी ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। महंगाई व महामारी देश की आबादी के एक हिस्सा को निगल चुकी है। देश ऑन सेल है। विकास शुन्य से रसातल में जा पहुंचा है। जीडीपी पाताल में गुम हो रही है। देश में अराजकता व दलाल माफिया का बोलबाला बढ़ रहा है। सत्ता और सियासत को बाजार की तर्ज पर मुनाफा कमाने और मुनाफा कमाने का जरिया बीजेपी ने बना कर रख दिया है। जबकि लोकतंत्र व संविधान की मर्यादा मुनाफा कमाना नहीं बल्कि लोकहित के आधार पर चलती है। राणा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश को भ्रष्टाचार का सबसे बड़ा बदनुमा दाग लगाने वाले करोड़ों के घोटाले फर्जी डिग्री कांड से देवभूमि शर्मसार है। जिसका प्रदेश की जनता चुनावों में बीजेपी से हिसाब लेगी। देखना यह है कि बीजेपी देवभूमि को शर्मसार करने वाले फर्जी डिग्री कांड की सीबीआई से जांच करवाने के बाद प्रदेश के सबसे बड़े घोटाले के गुनाहगारों को सजा दिला पाती है या एक बार फिर प्रदेश बीजेपी की तर्ज पर इस मामले को फिर से दबाने व छिपाने का प्रयास करती है। भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस का वायदा करने वाली बीजेपी को इसका जवाब देना होगा। प्रदेश ही नहीं देश की जनता की नजरें भी बीजेपी के इस दिशा में लिए जाने वाले आगामी कदम की ओर लगी है। राणा ने कहा कि महंगाई, महामारी व भ्रष्टाचार के मुद्दे उप चुनाव व आम चुनाव में बीजेपी के गले की फांस बनेंगे यह निश्चित है। क्योंकि अब बीजेपी के तमाम झूठों व फरेबों का पर्दाफाश हो चुका है। देश और प्रदेश की जनता बीजेपी को रुख्सत करने के लिए अब चुनावों का बेताबी से इंतजार कर रही है। बीजेपी को अपनी ही कारगुजारियों के कारण देश को कंगाल करने के गुनाह के लिए जनता के कोप का भाजन बनना पड़ेगा यह तय है।