मुकेश अग्निहोत्री ने किया मुख्यमंत्री पर बड़ा हमला, वे डिजर्ब ही नहीं करते पत्र लिखने के लिए

338

 

शिमला. विधानसभा में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि वे पत्र लिखने के लिए डिजर्ब ही नहीं करते। विपक्ष के नेता ने कहा कि विपक्ष को जनता की बात उठाने का हक है और मुख्यमंत्री को पत्र लिखने का अधिकार सभी को है। लेकिन मुख्यमंत्री पत्र लिखने के लिए डिजर्ब ही नहीं करते जिससे उनको पत्र लिखने का सवाल ही नहीं उठता। अग्निहोत्री ने कहा कि कोरोना रोकने में सरकार पूरी तरह नाकाम है और भाजपा के लोगों ने ही प्रदेश में कोरोना फैलाया है। शिमला से मंडी तक कोरोना फैलाने में भाजपा नेताओं का ही हाथ है। विपक्ष के नेता ने कहा कि सरकार चार महीने में नहीं सीख सकी कि कौराना से कैसे निपटना है। राजभवन में मंत्री शपथ ले रहे हैं और मुख्यमंत्री सचिवालय के हजारों कर्मचारी अपनी जान की सुरक्षा को लेकर सड़क पर उतर रहे हैं। सरकार को उनकी जान की सुरक्षा के लिए कदम उठाना चाहिए। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि कोरोना काल में प्रदेश में हजारों लोगों की नौकरी चली गई और लाखों व्यापारियों के काम बंद हो गया है। लेकिन सरकार किसी भी वर्ग को राहत देने की बजाय लगातार महंगाई बढ़ रही है। सरकार में दो साल में ही 50 फीसदी से अधिक बस किराया बढ़ा दिया है। इसके साथ ही राशन, बिजली और पानी का टैक्स भी बढ़ा दिया है। मुकेश अग्निहोत्री ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर निशाना साधते हुए कहा कि कोविड काल में ही करोड़ों रुपए के घोटाले हुए हैं जिसकी जांच करानी चाहिए। अग्निहोत्री ने कहा कि सरकार मिशन रिपीट का सपना देखना छोड़ दे अब तो वह दिन काटने का प्रयास करे। जनता अब मन बना चुकी है कि इस निकम्मी सरकार को सत्ता से उतारकर जनहितैषी सरकार बनाना है और जनता अब कांग्रेस की सरकार बनाएगी।