मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट का मंडी में विरोध, नहीं बनने देंगे उपजाऊ जमीन पर हवाई अड्‌डा, होगी बड़ी विरोध रैली

170

1 मार्च कि रैली (कंसा मैदान) मे ढोल-नगाड़े के साथ बड़-चढ़ हिस्सा लेंगे बल्ह के किसान I

जन संपर्क अभियान के तहत आज तीसरे दिन आज बल्ह बचाओ किसान संघर्ष समिति, टावंI गाँव कि बैठक श्री प्रेम चंद सैनी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें माननीय मुख्यमंत्री द्वारा बल्ह में अन्तर्राष्ट्रीय हबाई अड्डा बनाने का सपना लिया है उसके उपर किसानों ने चर्चा की और इस फैसले का किसानों ने विरोध किया तथा एकमत से निर्णय लिया कि 1 मार्च 2021 को 11 बजे कंसा मैदान से ढोल – नगाड़े के साथ रैली में बड़-चढ़ हिस्सा लेंगे I सरकार के एकतरफा फैसले ब मुख्यमंत्री दुवारा समिति की अनदेखी व मिलने के लिए समय न देना ब मांग पत्र एस डी एम (बल्ह) के माध्यम से माननीय प्रधानमंत्री जी को भेजा जाएगा।

गाँव समिति के प्रधान श्री प्रेम दास चौधरी ने कहा कि एक तरफ राज्य सरकार, भूमि अधिग्रहण कानून 2013 को पूर्णता लागू नहीं कर रही है, पुनारस्थापन ब पुनर्निवासन के बारे चुप है दूसरी तरफ राज्य के मुख्य मंत्री, हबाई अड्डा में अधिग्रहण की जाने बाली जमीन को उचित मुआबजा देने की बात कर रहे हैं जबकि प्रस्तावित हवाई क्षेत्र में जमीन के सर्किल रेट इतने कम है कि जमीन कौड़ियो के भाव जायेगी। जिला प्रशासन द्वारा घोषित सरकल रेट 1.60-6 लाख प्रति बीघा है, जबकि किसान 3 से 4 लाख प्रति बीघा नकदी फसलों से प्रति वर्ष कमा रहा है I

समिति सदस्य प्रेम चंद सैनी ने कहा कि बल्ह घाटी में एयरपोर्ट अथॉरिटी द्वारा प्रस्तावित अन्तर्राष्ट्रीय हबाई अड्डा जिसमे 8 गाँव एक तरफ ढाबण से कुम्मी और दूसरी तरफ डुगराई से डायोडा तक 3150 मीटर लम्बी रनवे जिसमे जमीन लगभग 3500 बिघा और लगभग 2500 मकान, 13000 जनसँख्या इस हबाई पट्टी की जद में आ जायेंगे अपनी उपजाऊ जमीन जिसमे हर साल लाखों की नकदी फसले उगाते हैं उसमें पूरी तरह से बेदखल हो जायेंगे i

सचिब, नन्द लाल ने कहा कि हिमाचल सरकार, जिस तरह भारत सरकार किसानों की जमीन/एयरपोर्ट अदानी व अंबानी को देने जा रही है उसी तरह हिमाचल सरकार, बल्ह हवाई अड्डों को भी इनको बेच देगी।

बैठक में जोगिंदर वालिया अध्यक्ष,नन्द लाल वर्मा सचिव,प्रेम दास चौधरी,प्रेम चन्द सैनी, स्वारू राम,बलदेव,मोहन लाल,प्रेम दास फौजी,पन्ना लाल,गोविंद राम फौजी,मस्त राम,प्रेम सिंह,चुनी लाल सैनी,जगदीश सैनी,कृष्ण चंद, कृष्णा देवी, इंद्रा देवी,मनोरमा देवी, बंटी देवी,रमा सैनी,विमला देवी,राम सिंह,हरी राम,हेम राज, आदि शामिल हुए।

जारीकर्ता