मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के मिशन रिपीट के लिए संजीवनी साबित होगी प्रधानमंत्री की रैली

50

शिमला. हिमाचल प्रदेश की सियासत चुनावी रंग में रंगी नजर आने लगी है। आगामी विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस, भाजपा के साथ-साथ आम आदमी पार्टी भी सियासी जमीन पर जंग लड़ने को तैयार है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हिमाचल प्रदेश की सियासत में इतिहास लिखने की दम भरते हुए मिशन रिपीट होने का दावा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री सीधे कहते हैं कि भाजपा की डबल इंजन सरकार ने प्रदेश में विकास की लंबी लकीर खींच कर बदलाव किया है जिससे अब हिमाचल की सियासत में भी बदलाव होगा। प्रदेश में अभी तक किसी भी पार्टी की सरकार रिपीट नहीं हुई है लेकिन अब भाजपा की सरकार रिपीट होकर इतिहास लिखेगी। भाजपा के चुनाव प्रचार की कड़ी में ही केंद्र सरकार के आठ साठ पूरे होने का जश्न शिमला में मनाया जा रहा है। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली की सफलता के प्रदेश शिमला के रिज सहित पूरे प्रदेश में तैयारी चल रही है। लेकिन चुनावी वर्ष में इसका फायदा भाजपा को ही मिलेगा। चुनावी समर में प्रधानमंत्री की रैली का फायदा पूरे प्रदेश में उठाने के लिए भाजपा सरकार और संगठन पूरी रणनीति बनाने में जुटा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सहित पार्टी के केंद्रीय नेता शिमला में रहेंगे तो सरकार के मंत्री हर जिला मुख्यालय में जनता के साथ रैली में वर्चुअल माध्यम से भाग लेंगे। प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन का जन जन तक पहुंचाने के लिए प्रदेश में करीब 200 स्थानों पर बड़ी स्क्रीन लगाई जा रहीं हैं जिससे प्रदेश की राजधानी शिमला से लेकर जिला मुख्यालय तक हजारों लोग मोदी के संबोधन को लाइव सुन और देख सकें। जिससे तय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के मिशन रिपीट के लिए संजीवनी साबित होगी।

 

सरकारी स्तर पर प्रधानमंत्री रैली की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सहित सभी मंत्री और पूरा प्रशासनिक अमला जुटा है। वहीं भाजपा संगठन के नेता भी रैली को सफल बनाने के लिए जुटे हैं। इस रैली में केंद्र व राज्य की सरकार के द्वारा प्रदेश में किए गए विकास को जनता के सामने पेश किया जाएगा तो जन कल्याणकारी योजनाओं को भी गिनाया जाएगा। केंद्र सरकार के उज्जवला योजना, आयुष्मान योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से प्रदेश के लाखों लोगों को फायदा पहुंचा है। जिससे तय है कि इस रैली में केंद सरकार के जन कल्याणकारी योजनाओं को पेश किया जाएगा और बताया जाएगा कि केंद सरकार की योजनाओं से जनता को कितना फायदा हो रहा है। यह वह योजनाएं हैं जिससे आम आदमी वाकई में लाभान्वित हुआ है। सरकार के साथ संगठन का एक-एक पदाधिकारी और कार्यकर्ता रैली को सफल बनाने के लिए जुटा है। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप अपनी टीम के साथ रैली की तैयारियों में जुटे हैं और पार्टी कार्यालय में तैयारियों को लेकर समीक्षा कर रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कहा कि केंद्र सरकार के 8 वर्ष पूरे होने के अवसर पर होने वाली विशाल रैली पूरी तरह सफल होगी।देश के सभी मुख्यमंत्री चाहे भाजपा हों या विपक्षी दलों के मुख्यमंत्री राष्ट्रीय स्तर पर कार्यक्रम के साक्षी होंगे।  यह रैली राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक मजबूत संदेश देगी।उन्होंने कहा कि यह चुनावी साल है और नगर निगम शिमला के चुनाव नजदीक आ रहे हैं, यह जनसभा आने वाले चुनावों के लिए भाजपा को बाल देने वाली साबित होगी ।

पूरे देश और प्रदेश का माहौल भाजपा के पक्ष में है।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, मंत्री सुरेश भारद्वाज, भाजपा के प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, सह प्रभारी संजय टंडन, महापौर सत्य कौंडल, बोर्ड व निगम के अध्यक्ष रूपा शर्मा, गणेश दत्त, खुशी राम बालनाथा समेत अन्य प्रमुख नेता मोदी रैली को लेकर घर-घर जाकर सभी को निमंत्रण-पत्र बांटेंगे। उन्होंने कहा कि नगर निगम के लिए प्रति निगम वार्ड में 300 लोगों का लक्ष्य रखा गया है।सभी पार्षद बैठक में दिए गए सभी निर्देशों का कड़ाई से पालन करेंगे।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 29 मई को मन की बात कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा और कार्यक्रम के बाद सभी संबंधित वार्डों में स्वच्छता अभियान और आमंत्रण अभियान चलाया जाएगा। हम भाजपा समर्थक परिवारों पर भाजपा का झंडा फहराएंगे।भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने 31 मई को शिमला के रिज पर होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली को लेकर संचालन समिति की समीक्षा बैठक ली।इस संचालन समिति में 15 उप समितियां शामिल हैं जो भाजपा की ओर से सभी व्यवस्थाओं का ध्यान रखेगी।सुरेश कश्यप ने कहा कि हमने इस रैली के आयोजन के लिए सभी विभिन्न कार्यों के लिए अलग-अलग उप समितियां बनाई हैं।भाजपा कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करेंगे कि रैली अच्छी तरह से संचालित हो।

इस तरह भाजपा सरकार और संगठन प्रधानमंत्री की रैली को सफल बनाने के जुटे हैं। रैली के माध्यम से प्रदेश भी के पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश आएगा जो आगमी विधानसभा चुनावों में पार्टी के प्रचार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। प्रधानमंत्री मोदी की रैली को प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा के प्रचार की शुरुआत भी माना जा रहा है।