साल बाद घर आकर झूठ की पोटली से क्या शगूफा छोड़ने आए हैं अनुराग : राणा

177

कहा : कोरोना काल में भी नहीं आई अपनों की याद, डेढ़ साल में हिमाचल के लिए किया कोई एक काम बताएं
हमीरपुर, 22 अक्तूबर : हिमाचल के दौरे पर आए केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर का प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा ने स्वागत करते हुए कहा है कि डेढ़ साल लोकसभा चुनावों को हो चुका है तथा करीब 1 साल बाद अनुराग ठाकुर हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के दौरे पर आए हैं लेकिन इस बार वह झूठ की पोटली क्या लेकर आए हैं, ये भी बता दें। जारी प्रेस विज्ञप्ति में उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नवरत्नों का एक रत्न बताते हें तो वह अब अनुराग ठाकुर से अगली किसी योजना की बजाये पहले से की गई घोषणाओं के बारे में पूछ लें। उन्होंने कहा कि अनुराग ठाकुर बताएं कि ऊना-हमीरपुर रेल लाइन के बीच में अब कहां पेंच फंसा हुआ है जबकि केंद्र में अनुराग स्वयं मंत्री हैं तो प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है। केंद्रीय विश्वविद्यालय के निर्माण में अब क्यों देरी हो रही है। अनुराग बताएं कि अब प्रदेश व केंद्र में उनकी सरकार होने के बाद प्रदेश के विकास में उनका क्या योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि अपने ही प्रदेश में स्टेट गैस्ट बने अनुराग ठाकुर यह भी बताएं कि कोरोना महामारी ने जब पांव पसारे थे तो वे कम से कम अपने संसदीय क्षेत्र के लोगोंं का दुखदर्द जानने भी क्यों न आए। उन्होंने कहा कि अब केंद्र में उन्हें केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री का दर्जा दिया गया है तो हिमाचल की आर्थिक मदद करने से हाथ पीछे क्यों खींच रहे हैं। हिमाचल पर करोड़ों रुपए का कर्ज है, उसमें वे कितनी रियायत दे रहे हैं, ये तो अब जनता भी जानना चाहती है। कोरोना काल में निजी क्षेत्र से नौकरियां गंवा चुके बेरोजगारों के लिए दिल्ली में बैठे हुए अनुराग ठाकुर ने रोजगार दिलाने बारे कोई योजना बनाने का एलान किया था तो अब बताएं कि कितने लोग बेरोजगार होकर घर बैठे हैं, उनका डाटा सार्वजनिक करें। यह भी बताएं कि कितने लोगों को दोबारा रोजगार या स्वरोजगार दिलाने की दिशा में काम किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 15-20 सालों से रेल लाइन के ऊपर ही अनुराग ठाकुर अपनी राजनीति चमकाते आए हैं, लेकिन अब जनता भी उनके झांसे में आने वाली नहीं है तथा उनके झूठ का पर्दाफाश हो चुका है।