हिमाचल के मिलेगा ऐतिहासिक तोहफा, बल्क ड्रग पार्क मिलना तय, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नाम लिखी जाएगी बड़ी उपलब्धि, दिसंबर में हो सकती है औपचारिक घोषणा

184

शिमला. हिमाचल प्रदेश को शीघ्र ही ऐतिहासिक तोहफा मिलने वाला है। केंद्र सरकार की ओर से फार्मा हब बना हिमाचल को बल्क ड्रग पार्क का तोहफा मानो मिल चुका है। प्रदेश के उद्योग विभाग ने केंद्र सरकार की ओर से निर्धारित सभी औपचारिताएं पूर्ण कर दी हैं। जिसके बाद अब तय हो गया है हिमाचल को बल्क ड्रग पार्क मिलेगा। जिसकी औपचारिक घोषणा दिसंबर माह में हो सकती है। बल्क ड्रग पार्क मिलने से हिमाचल में बहुत तेजी से औद्योगिक विकास होगा। बल्क ड्रग पार्क प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नाम पर लिखी जाने वाली बड़ी उपलब्धि के रुप में होगा। केंद्र सरकार देश में तीन बल्क ड्रग पार्क बनाना चाहता है जिसमें एक छोटे से प्रदेश हिमाचल प्रदेश को मिलना बहुत बड़ी बात होगी।
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सत्ता संभालते ही औद्योगिक विकास के साथ प्रदेश के चहुमुखी विकास का लक्ष्य बनाया। प्रदेश के औद्योगिक विकास के लिए सरकार ने इनवेस्टर मीट का आयोजन किया जिससे देश – विदेश से करोड़ों निवेश प्रदेश में आ रहा है। अब बल्क ड्रग पार्क मिलने से हिमाचल प्रदेश के औद्योगिक विकास को और गति मिलेगी।
मुख्यमंत्री ने गत दिनो बल्क ड्रग पार्क के संबंध में प्रदेश के फार्मा उद्योग से जुड़े उद्योगपतियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की थी। जिसमें मुख्यमंत्री ने कहा था कि बल्क ड्रग पार्क को विकसित करने के लिए केंद्र सरकार से 1000 करोड़ रुपए का अनुदान प्राप्त होगा। जिससे प्रदेश में फार्मा उद्योग स्थापित करने वाले उद्योगपतियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बल्क ड्रग पार्क के लिए 1400 एकड़ भूमि का चयन सरकार के द्वारा किया जा चुका है। नवंबर माह में ही मुख्यमंत्री ने अपने ऊना दौरे के दौरान हरोली विधानसभा क्षेत्र में बल्क ड्रग पार्क के लिए प्रस्तावित क्षेत्र का दौरा किया था और अधिकारियों से दिशा निर्देश दिए थे। मुख्यमंत्री का मानना है कि प्रदेश में औद्योगिक विकास होने से राज्य की आर्थिकी मजबूत होगी और युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। बल्क ड्रग पार्क में अनुमानित करोड़ों का निवेश होगा और लाखों युवाओं को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर रोजगार प्राप्त होगा। इस तरह हिमाचल को मिलने वाला बल्क ड्रग पार्क प्रदेश के सामूहिक विकास में मील का पत्थर साबित होगा, जिसका श्रेय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को जाएगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बल्क ड्रग पार्क को प्रदेश के नाम करवाने के लिए केंद्र सरकार के मंत्रियों और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मिलकर सहयोग करने का आग्रह किया था, जिसका ही परिणाम है कि आज हिमाचल प्रदेश के नाम बल्क ड्रग पार्क मानो हो चुका है बस घोषणा बाकी है। मुख्यमंत्री के बल्क ड्रग पार्क के सपने को पूरा करने के लिए उद्योग विभाग के सेकेट्री राम सुभग सिंह, डायरेक्टर हंसराज और एडिशनल डायरेक्टर तिलक राज शर्मा ने भरपूर प्रयास किए और केंद्र सरकार के द्वारा निर्धारित मापदंडों को पूरा कर बल्क ड्रग पार्क अपने नाम कराने में सफल रहे।