असंवेदनशील सरकार, प्रदेश में लोग कोरोना से मर रहे और मुख्यमंत्री निकले जम्मू की सियासी सफर पर : मुकेश अग्निहोत्री

126

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा है कि कोरोना में हिमाचल प्रदेश देश में एक नम्बर का ख़िताब अर्जित कर चुका है लेकिन मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर ऐसे हालात से बेपरवाह जम्मू- कश्मीर के सियासी सफर पर निकल गए हैं।उन्होंने कहा हिमाचल की जनता संकट में हैं और सरकार जम्मू में वोटे माँग रही है।मुख्य मंत्री बताएँ नाज़ुक हालात में उनका अपने राज्य से बाहर जाना कहाँ तक उचित है? मुकेश अग्निहोत्री ने पूछा कि क्या दूसरे सूबे के निकाए चुनाव हिमाचल के लोगों की जान से ज़्यादा ज़रूरी हैं। उन्होंने कहा कि एक तो कोरोना मौतें राज्य के लिए परेशानी का सबब बनी हैं ऊपर से प्रदेश के मुखिया कोरोना हमले की बीच सियासी उड़ाने भर रहे हैं। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि इस से पहले सरकार ने प्रदेश व्यापी राजनीतिक रेलियां शुरू कर रखी थी और पाबंदियाँ उस बक्त तक नही लगाईं जब तक राष्ट्रीय अध्यक्ष का दौरा मुकमल नही हो गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब सियासत से ज़्यादा कोरोना संक्रमण से हिमाचलीयों को बचाने के तौर तरीक़ों पर गौर करने का है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि एक तों राज्य सरकार अनाप- शनाप निर्णय लेने की बज़ह से जनता की आँखों में खटकी हुई है सरकार को अपना हर निर्णय पलटना पड़ रहा है। सरकार जनता को तो रोज़ाना फ़रमान ओर उपदेश जारी कर रही है , निजी कार्यक्रमों को लेकर निर्देश जारी हो रहे है लेकिन सरकारी कार्यक्रमों में नियमों की धजियां उड़ रही हैं और सरकार औरों को नसीहत और खुद मियाँ फजीहत की भूमिका में है। हिम सुरक्षा योजना की याद भी सरकार को आठ महीने बाद आई जब 550 लोगों को कोरोना निगल गया और 800 लोगों ने आत्महत्या कर ली।