जयराम खुद हालात की पैदाइश, राजनैतिक दुर्घटना से मिली कुर्सी, ऊंगली न उठाएं : मुुकेश अग्निहोत्री

178

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर जवाबी हमला बोलते हुए कहा कि सारा प्रदेश जानता है कि जयराम ठाकुर को किस मजबूरी में मुख्यमंत्री बनाया गया। उन्होंने कहा कि जयराम खुद हालात की पैदाइश है और राजनीतिक दुर्घटना में कुर्सी पर पहुँचे है वह मेरे पर क्या उँगली उठायेंगे। उन्होंने कहा रोज़ निर्णय लेकर पलटने वाले मुख्यमंत्री अपनी लगातार फ़ज़ीहत करवा रहे हैं। आज कोविड को लेकर जो हालात बिगड़े हैं उस के लिए मुख्यमंत्री ज़िम्मेवार हैं और हमें कोसने की बजाय सार्वजनिक माफ़ी माँगे। मुकेशअग्निहोत्री ने कहा कि जयराम पहले मुख्यमंत्री हैं जिस को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के मंच पर बोलने नहीं दिया गया, इनका केंद्रीय मंत्री इन्हें काम करने की आदत डालने की नसीहत दे गया। मुख्यमंत्री हर रोज कुर्सी बचाने के लिए दिल्ली की प्रक्रिमा करते हैं।उन्होंने कहा कि बीत्ते तीन साल में प्रदेश की आपराधिक बर्बादी हुई है। उन्होंने मुख्यमंत्री को कहा उनकी धमकियों से डरने वाले नहीं है इसलिए बेहतर रहेगा प्रदेश को संकट से बचाने के नज़रिए से काम करें हालाँकि यह स्पष्ट हो चुका है की यह आप के बस की बात नहीं है। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री बीत्ते तीन साल से उन्हें नेता प्रतिपक्ष से हटाने के ख़्वाब देख रहे है उन्होने कहा कि उन्हें पद पर कांग्रेस हाईकमांड और कांग्रेस विधायकों ने बिठाया और प्रदेश विरोधी निर्णयों पर आवाज़ उठाईं जाती रहेगी यहाँ आपकी थाली लेकर पूजा अर्चना नहीं की जाएगी। उन्होंने मुख्यमंत्री से पूछा विधानसभा सत्र की अधिसूचना किस ने जारी करवाई और फिर रद्द किसने करवाई। उन्होंने कहा पहले मंत्रीमंडल में सत्र का निर्णय लिया, राज्यपाल से मंज़ूर करवाया ,विधनसभा से अधिसूचित करवाया, अजेंडा लग गया , उसके बाद भाग गए तो यह भगोड़ी सरकार हैं। उन्होंने कहा कि डीसी, एसपी समेलन में मुख्यमंत्री कह रहे कि बीते दो महीने की लहपरवाही से कोविड फ़ेला तो यह लहपरवाही के लिए दोषी कोन है? नेता प्रतिपक्ष ने कहा की विपक्ष तो लगातार हो रही मौतों की तरफ़ सरकार का ध्यान खिंच रहा है। आख़िर कोविड में हिमाचल नम्बर वन पर केसे पहुँच गया। महीने में साढ़े तीन सो लोग मौत के मुँह में चले गए। मौत का आँकड़ा सात सो की तरफ़ जा रहा है। आत्महत्याएँ 8 सो हो चुकी है। जनता को बचाने के लिए आवाज़ उठेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कहते है कि मुकेश को नेता किस ने बना दिया , लेकिन यह क्यूँ भूल रहे हो की भाजपा ने दूल्हा कोई दिखाया था, मजबूरी में फेरे कोई और ले गया।इसलिए बात निकली है तो दूर तल्ख़ जाएगी ।