बाली पुत्र रघुवीर ने लगाई सियासत में ऊंची छलांग, कांग्रेस की युवा बिग्रेड में दबदबा

170

शिमला. कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री जी. एस. बाली के पुत्र रघुवीर सिंह बाली ने सियासत में ऊंची छलांग लगाई है। रघुवीर सिंह को कांग्रेस का राष्ट्रीय सचिव बनाया गया है जो सियासत में बहुत बड़ा पद माना जाता है। रघुवीर सिंह बाली प्रदेश की सियासत में लंबे समय से सक्रिय हैं और कांग्रेस की युवा बिग्रेड में उनका बहुत दबदबा है। युवा बिग्रेड में दबेदबे के कारण ही उन्हें यह बड़ा पद दिया गया है। जिससे अब तय है कि रघुवीर सिंह बाली प्रदेश की सियासत में भी सीधे तौर पर सक्रिय होंगे। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव बनने के साथ ही रघुवीर सिंह को पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है। जिससे अब रघुवीर सिंह बंगाल में कमान संभालने के बाद हिमाचल आएंगे और यहां की सियासत में सक्रिय होंगे। ऐसा भी अनुमान है कि विधानसभा चुनाव 2022 में भी रघुवीर सिंह चुनाव मैदान में उतर सकते हैं।

जीएस बाली कांग्रेस के दिग्गज नेता हैं और नगरोटा बगवां से कई बार विधायक रहे हैं और पूर्व कांग्रेस सरकार में मंत्री भी रहे हैं। आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में कांग्रेस की जीत होने की दशा में जीएस बाली मुख्यमंत्री पद के दाबेदार भी माने जाते हैं। जिससे अब प्रदेश की सियासत में बाली परिवार की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।
जीएस बाली के सीधे प्रदेश की सियासत में सक्रिय होने के कारण रघुवीर सिंह बाली प्रदेश की युवा ब्रिगेड में सक्रिय रहे हैं। यूथ कांग्रेस के चुनाव में पिछले दस से अधिक वर्षों से रघुवीर सिंह बाली की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। यूथ कांग्रेस का अध्यक्ष वही बनता है जिसे रघुवीर सिंह बाली का समर्थन हासिल होता है। जिससे युवा कांग्रेस के गत कई चुनावों में रघुवीर सिंह बाली ने अपना दबदबा साबित किया है। प्रदेश के सबसे बड़े जिले कांगड़ा के यूथ कांग्रेस में हमेशा ही रघुवीर बाली का दबदबा रहा है। यूथ कांग्रेस में दबदबे के कारण ही रघुवीर सिंह बाली बड़ा पद लेने में कामयाब रहे हैं। अब प्रदेश की सियासत में यूथ बिग्रेड के सहारे ही वह अपना दमखम दिखाएंगे।