मुकेश अग्निहोत्री, हर्षवर्धन, रायजादा, विनय कुमार और सुंदर सिंह को अनिश्चित काल के लिए सस्पेंड किया

221

शिमला. विधानसभा के अध्यक्ष विपिन परमार ने कहा कि विधानसभा में प्रस्ताव आया जिसके आधार पर विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री, हर्षवर्धन चौहान, सतपाल रायजादा, विनय कुमार और सुंदर सिंह को विधानसभा से अनिश्चित कालीन के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। अध्यक्ष ने कहा कि पहली बार विधानसभा स्थगित करने के बाद अध्यक्ष के पास पावर होती है कि वह फिर से सत्र बुलाए। इस आधार पर सत्र बुलाया गया और सदन में आए प्रस्ताव के आधार पर 20 मार्च तक चलने वाले सत्र में सभी पांचों सदस्यों को अनिश्चित कालीन के लिए सस्पेंड कर दिया है। परमार ने कहा कि जिस तरह से विपक्ष के नेता और कांग्रेस के विधायकों ने गवर्नर साब के साब के साथ बदसलूकी की है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। परमार ने बताया कि मेरे चैंबर के बाहर गवर्नर जा रहे थे तब विपक्ष के विधायकों ने उनके सिर पर बजट भाषण की कापी मारी गई वह अशोभनीय है। जब गवर्नर गाड़ी में बैठ रहे थे तब उनको रोका गया और उनकी गाड़ी को घेरा गया जिसमें मैं निंदा करता हूं। विपक्ष के विधायकों के व्यवहार की मैं निंदा करता हूंऔर प्रदेश की जनता भी कांग्रेस विधायकों के व्यवहार से शर्मसार महसूस करेगा।